हज़ारों ख्वाहिशें . . .

हज़ारों ख्वाहिशें . . . हज़ारों ख्वाहिशें ऐसी के हर ख्वाहिश पे दम निकले बहुत निकले मेरे अरमान लेकिन फिर भी कम निकले डरे क्यूँ मेरा क़ातिल क्...
Read More

भ्रूणहत्या

  अमेरिका में सन 1984 में एक सम्मेलन हुआ था - 'नेशनल राइट्स टू लाईफ कन्वैन्शन'। इस सम्मेलन के एक प्रतिनिधि ने डॉ॰ बर्नार्ड नेथेनसन क...
Read More

लोग कहते है . . .

लोग कहते है की में काफी बोरिंग शा हु, वो क्या है कि में थोड़ा दुनिया से अलग हु।। मुझे दोस्त बनाना नही आता । और गलती से बन गया तो मुजसे...
Read More

इस पोस्ट पर साझा करें

| Designed by Techie Desk